Home संपूर्ण ख़बर कैबिनेट के बाद विस में आएगा प्रस्ताव, अंतिम रुप देने गृहमंत्री ने...

कैबिनेट के बाद विस में आएगा प्रस्ताव, अंतिम रुप देने गृहमंत्री ने बुलाई बैठक

59
0

narottam mishra

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। लव जिहाद (Love Jihad) को लेकर कानून बनाने वाली प्रदेश सरकार (State Government) अब इससे और सख्त बनाने पर विचार कर रही है। ऐसा कानूनविदो की सलाह पर किया जा रहा है। इस कानून में अब 5 साल की बजाय 10 साल की सजा का प्रावधान किया जा सकता है, ताकि आरोपी किसी भी कीमत पर गिरफ्तारी (Arrest) से ना बच पाए।

इसके अलावा जमानत के प्रावधान को भी कड़ा किया जाएगा। इसके लिए सरकार, यूपी (Uttar Pradesh) में हाल ही में बने कानून का भी अध्ययन करेगी। लव जिहाद को लेकर शासन स्तर पर खाका तैयार किया जा रहा है। आज गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने अपर मुख्य सचिव गृह, पुलिस महानिदेशक, प्रमुख सचिव विधि व संसदीय कार्य समेत अन्य आला अफसरों की बैठक बुलाई है। बैठक में सजा के प्रावधान पर विचार किया जा सकता है।

आज मंत्रालय में होनी वाली बैठक को लेकर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) ने बताया कि धर्म स्वातंत्र्य विधेयक 2020 (Religion Independent MLA 2020) के मसौदे को अंतिम रूप देने के लिए बैठक रखी गई है। आज उसे अंतिम रूप दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि मसौदे को अंतिम रूप देने के बाद उसे कैबिनेट बैठक (Cabinet Meeting) में रखा जाएगा उसके बाद विधानसभा सत्र (MP Assembly Session) में प्रस्तुत किया जाएगा।

गौरतलब है कि शिवराज सरकार (Shivraj Government) विधानसभा के शीतकालीन सत्र (Winter Session) में धर्म स्वतंत्रता विधेयक 2020 ला रही है। इस विधेयक के जरिए सरकार द्वारा लव जिहाद पर लगाम लगाने की कोशिश की जाएगी। विधेयक में लालच देकर या छल कर विवाह (Marriage) करने और धर्म परिवर्तन (Religion Change) की प्रक्रिया को कठिन किया जा रहा है और इसके लिए 1 महीने पहले कलेक्टर (Collector) कार्यालय में आवेदन करना अनिवार्य बनाया जा रहा है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here