Home राष्ट्रीय खरीफ की अनाधिकृत उपज रोकने के लिये सीमावर्ती जिलों की सीमा पर...

खरीफ की अनाधिकृत उपज रोकने के लिये सीमावर्ती जिलों की सीमा पर चैकिंग सख्त

198
0


खरीफ की अनाधिकृत उपज रोकने के लिये सीमावर्ती जिलों की सीमा पर चैकिंग सख्त


पंजीकृत किसानों को मिल सकेगा उनके सही उत्पादन का सही मूल्य – खाद्य मंत्री श्री सिंह 


भोपाल : सोमवार, नवम्बर 23, 2020, 19:40 IST

खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह ने बताया कि प्रदेश में खरीफ उपज की समर्थन मूल्य पर खरीदी के लिये पंजीकृत किसानों से उनकी धान, ज्वार एवं बाजरे की वास्तविक पैदावार का उपार्जन किया जा रहा है। प्रदेश के किसानों की उपज का को समर्थन मूल्य पर क्रय करने के लिये प्रदेश के बाहर से आने वाली अनाधिकृत उपज को रोकने के लिये राज्य की सीमाओं पर चैकिंग पोस्ट बनाये गये हैं।

प्रदेश में उपार्जन

प्रमुख सचिव खाद्य श्री फैज अहमद किदवई ने बताया कि प्रदेश में अभी तक 9521 किसानों से एक लाख 36 हजार 887 मीट्रिक टन उपज समर्थन मूल्य पर खरीदी जा चुकी है, जिसमें 6128 किसानों से 40 हजार 603 मीट्रिक धान, 1768 किसानों से 10 हजार 378 मीट्रिक टन ज्वार एवं 1625 किसानों से 85 हजार 906 टन बाजरा समर्थन मूल्य पर क्रय किया गया है।

प्रमुख सचिव खाद्य ने बताया कि ग्वालियर एवं चंबल संभाग में धान का उपार्जन 21 दिसम्बर, 2020 तक किया जायेगा। शेष संभाग में उपार्जन की तिथि 16 जनवरी, 2021 सुनिश्चित की गई है। इसके साथ ज्वार एवं बाजरा का उपार्जन इन संभागों में 5 दिसम्बर, 2020 तक एवं शेष संभागों में 16 दिसम्बर, 2020 तक किया जायेगा।

चेक-पोस्ट पर अनाधिकृत उपज जप्त

श्री किदवई ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की मंशा के अनुरूप प्रदेश के किसानों को उनकी वास्तविक उपज का वास्तविक मूल्य भुगतान करने के लिये प्रदेश के बाहर की अनाधिकृत उपज के विक्रय पर रोक लगाई गई है। इसके लिये प्रदेश के सीमावर्ती राज्यों की सीमाओं पर चेक-पोस्ट लगाये गये हैं। चैकिंग के दौरान मुरैना में दो ट्रेक्टर ट्रॉली में 322.85 क्विंटल बाजरा एवं अन्य ट्रक में 408.90 क्विंटल बाजरा जप्त किया गया। इस प्रकार कुल 731.75 क्विंटल बाजरे सहित 2 ट्रक एवं 2 ट्रेक्टर ट्रॉली जप्त किये गये। इसी प्रकार ग्वालियर में 3 व्यापारियों पर एफआईआर दर्ज कराई गई। चार ट्रक मालिकों को नोटिस दिये गये। उपार्जन केन्द्रों पर जाँच में अनियमितता पाये जाने पर 5 समितियों को भी नोटिस जारी किये गये।

अनाधिकृत पंजीयनों पर कार्रवाई

श्री किदवई ने बताया कि भिण्ड तहसील में हरी सिंह पुत्र बृजेन्द्र सिंह ने आशाराम कटारे, आदित्य कुमार, विनोद शर्मा, विनोद, स्वप्न नारायण, बृजेश, राजाराम, मुकेश निवासी चरथर एवं बलवीर निवासी भानपुरा के किसानों के पंजीयन अपने नाम से करा लिये गये। इस प्रकार अनुचित तरीके से 9.25 हेक्टेयर रकबे का पंजीयन कराया गया, जिसके विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की जाकर थाने में 420 धारा के तहत केस पंजीकृत कराया गया।

इसी प्रकार सागर में 6 किसानों सचिन उर्फ सत्येन्द्र पुत्र नरेन्द्र जैन, नरेन्द्र पुत्र भरत जैन, संदीप पुत्र सरोज जैन, संदीप पुत्र भारत, शिवचरण पुत्र गोपाल कुर्मी एवं मनोहर पुत्र दरबारी के विरुद्ध फर्जी पंजीयन का प्रकरण दर्ज कराया गया।


मुकेश दुबे

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here