Home राष्ट्रीय बैतूल की प्राकृतिक संपदा का उपयोग उद्योग लगाने में करेंगे : मंत्री...

बैतूल की प्राकृतिक संपदा का उपयोग उद्योग लगाने में करेंगे : मंत्री श्री सखलेचा

140
0


बैतूल की प्राकृतिक संपदा का उपयोग उद्योग लगाने में करेंगे : मंत्री श्री सखलेचा


 


भोपाल : बुधवार, नवम्बर 25, 2020, 21:17 IST

सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम तथा विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने बैतूल की प्राकृतिक संपदा का उपयोग उद्योग लगाने में करने की जरूरत बताई है। श्री सखलेचा बुधवार को बैतूल में उद्योग संघ प्रतिनिधियों और अधिकारियों की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे।

मंत्री श्री सखलेचा ने कहा कि औद्योगिक के विकास के लिये अधिक से अधिक भूमि का अधिग्रहण किया जाए तथा नवीन पॉलिसी के अनुरूप उद्योगपतियों के समूह बनाकर उन्हें अविकसित भूमि प्रदान की जाए। उन्होंने जिले की कृषि, वन उद्यानिकी उत्पादन के कलस्टर बना कर उद्योगों की स्थापना करने के निर्देश भी दिए। श्री सखलेचा ने कहा कि जिले में वन आधारित वुड़न (लकड़ी) फर्नीचर, बांस आधारित कपड़ा निर्माण के लिये उद्योगपतियों को प्रेरित करें एवं नवीन तकनीक विकसित करें। चोरडोगरी, सुखाढ़ाना में समूह तैयार कर फलाई एस कलस्टर विकसित करें जिसे विभागीय सुविधा से भी जोडा जाए।वन एवं वन आधारित औषधीय पौधों का कलेक्शन तथा महुआ, गुल्ली वन आधारित उपजों की औद्योगिक इकाईयां स्थापित करना तथा 40 लाख से कम टर्न ओवर वाले उद्योगों को जीएसटी से पृथक रखने के लिये निर्देशित किया गया।

जिले में खाद्य प्रसंस्करण, मेकेनिकल, प्लास्टिक, वुड़न फर्नीचर, सीमेंट, वन आधारित उद्योगों को अधिक से अधिक स्थापित करने हेतु कलेक्टर बैतूल एवं महाप्रबंधक उद्योग विभाग को स्थानीय बड़े व्यापारियों की बैठक आयोजित करने एवं उद्योग लगाने हेतु प्रेरित करने के लिए निर्देशित किया।

श्री सखलेचा ने परम्परागत खेती से हटकर नेपियर ग्राम (घास) लगाने तथा कृषकों को अधिक से अधिक आय एवं कृषि लाभ का व्यवसाय करने हेतु प्रेरित करने की भी जरूरत बताई।उन्होंने बताया कि एमएसएमई में स्वास्थ्य सुविधाओं को जोड़ा गया है। गुणवत्तापूर्वक सुविधा उपलब्ध कराने हेतु चिकित्सालय स्थापित करने शासन भमि उपलब्ध करायेगा एवं अनुदान स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रदान करने का आश्वासन दिया गया। उद्योगपतियों को नवीन प्रौद्योगिकी के अनुसार उद्योग स्थापित करने एवं गुणवत्तापूर्वक उत्पादन करने का आग्रह किया गया।

वित्तीय संस्थाओं से बैंक लोन सरल प्रक्रिया से उद्योगपतियों को उपलब्ध कराया जायेगा एवं बैतूल में रेलवे परिसर में रोल ऑन रोल ऑफ रेक पाइंट बनाने के लिये रेल मंत्री भारत सरकार से चर्चा करने के लिये आश्वासन प्रदान किया गया।

उन्होंने कहा कि उद्योग विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों को अच्छा प्रदर्शन कर क्षेत्रानुसार उद्योगपतियों एवं व्यापारियों को प्रोत्साहित कर व्यापारियों को उद्योग लगाने के लिए प्रेरित करना और जनवरी 2021 तक जिले में अधिक से अधिक उद्योग स्थापना करने का मॉडल तैयार किया जाए।


राजेश बैन

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here