Home अपना मध्यप्रदेश मेडिकल कालेज में कार्यरत नर्स की मौत, शहीद की तरह निकाली अंतिम...

मेडिकल कालेज में कार्यरत नर्स की मौत, शहीद की तरह निकाली अंतिम यात्रा

143
0

जबलपुर,संदीप कुमार। कोरोना महामारी के बीच लगातार मौत का सिलसिला जारी है और प्रशासन है कि इस महामारी को रोकने में पूरी तरह से नाकाम साबित हो रहा है,आज कोरोना वॉरियर्स नर्स की कोविड से मौत हो गई, मृतक नर्स मेडिकल कॉलेज के कोविड-19 वार्ड में अपनी सेवाएं दे रही थी और बीते कुछ दिनों पहले ही उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई, जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया था। आज सुबह 40 वर्षीय कोरोना वॉरियर्स की मौत हो गई।

शहीद की तरह निकाली अंतिम यात्रा

मेडिकल कालेज में पदस्थ साथी नर्सों को जैसे ही पता चला कि उनके साथ में काम करने वाली 40 वर्षीय नर्स की मौत की जैसे ही खबर लगी तो सारा मेडिकल कॉलेज गमगीन हो गया। अचानक से ही उनके साथी में नर्स की मौत हो जाने के बाद से सभी नर्सों ने अब काम बंद कर हड़ताल कर दी है। मेडिकल कालेज में पदस्थ नर्सों ने राज्य सरकार से मांग की है कि मृतक नर्स को सम्मान पत्र के साथ 50 लाख रु का मुआवजा दिया जाए, इसके साथ ही राज्य सरकार के लिए काम कर रही नर्सों का बीमा करवाएं

मेडिकल कालेज से चोहानी श्मशानघाट तक निकाली गई अंतिम यात्रा

कोरोना से खत्म हुई 40 वर्षीय नर्स की जब अंतिम यात्रा निकाली तो पूरा मेडिकल स्टाफ एकत्रित हो गया। हालांकि कोविड की गाइडलाइन को देखते हुए प्रशासन ने ज्यादा लोगों को अंतिम यात्रा में शामिल नहीं होने दिया। कोरोना वॉरियर्स की अंतिम यात्रा मेडकिल कालेज से चोहानी शमशान घाट तक शहीद की तरह निकाली गई।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here