Home राष्ट्रीय राज्य में कोविड-19 के टीकाकरण को लेकर तैयारियाँ निरंतर जारी हैं

राज्य में कोविड-19 के टीकाकरण को लेकर तैयारियाँ निरंतर जारी हैं

315
0


राज्य में कोविड-19 के टीकाकरण को लेकर तैयारियाँ निरंतर जारी हैं


मुख्यमंत्री श्री चौहान स्वयं कर रहे हैं निगरानी
 


भोपाल : शनिवार, दिसम्बर 5, 2020, 19:47 IST

राज्य में कोविड-19 टीकाकरण अभियान की तैयारियाँ सतत रूप से निरंतर जारी हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान तैयारियों की स्वयं निगरानी कर रहे हैं। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी टीकाकरण की तैयारियों की साप्ताहिक समीक्षा भी कर रहे हैं। कोविड-19 के टीके के उपलब्ध होने के साथ ही टीकाकरण अभियान को निर्वाध रूप से संचालित किया जा सके।

कोविड-19 टीकाकरण अभियान की वृहद कार्य-योजना को मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस की अध्यक्षता में गठित राज्य संचालन समिति की प्रारंभिक बैठक हो चुकी है। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य की अध्यक्षता में राज्य टॉस्क फोर्स कमेटी द्वारा अंतर्विभागीय समन्वय स्थापित कर सभी संबंधित विभागों को जिम्मेदारियाँ सौंपी गई हैं। स्वास्थ्य आयुक्त द्वारा रोजाना क्षेत्रीय स्वास्थ्य संचालकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कोल्ड-चेन उपकरणों, नवीन फोकल पाइंट के विस्तार, वेक्सीन वेन की क्रियाशीलता एवं नवीन उपकरणों की प्राप्ति के पश्चात लगभग 50 कोल्ड-चेन पाइंट पर रख-रखाव की तैयारियाँ सुनिश्चित की जा रही हैं। टीकाकरण अभियान के सफल संचालन के लिये मिशन संचालक, एनएचएम द्वारा स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का डाटाबेस तैयार कर लिया गया है। लगभग 4 लाख स्वास्थ्यकर्मी (शासकीय एवं प्रायवेट) चिन्हित कर लिये गये हैं। प्रदेश में कार्यरत चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े एमबीबीएस, बीडीएस, स्टाफ नर्स (बीएससी नर्सिंग), एएनएम, फार्मासिस्ट, सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी (सीएचओ) आदि वैक्सीनेटर के रूप में चिन्हित किये जा रहे हैं। प्रत्येक टीकाकरण बूथ की स्थापना के लिये समस्त स्वास्थ्य संस्थाओं के अतिरिक्त शालाएँ, पंचायत भवन, शहरी क्षेत्र के नगर/पालिका वार्ड कार्यालय आदि स्थान सुनिश्चित किये गये हैं।

जिला स्तर पर कलेक्टर और ब्लॉक स्तर पर एसडीएम की अध्यक्षता में टॉस्क फोर्स का गठन किया जा चुका है। यह टॉस्क फोर्स प्रति सप्ताह कोविड-19 टीकाकरण अभियान की प्रगति की समीक्षा करेगी। अभियान को गुणवत्तापूर्ण संचालन के लिये राष्ट्रीय स्तर से प्रदेश के लगभग 2500 कोल्ड-चेन हेण्डलर, टेक्नीशियन का प्रशिक्षण पूर्ण कर लिया गया है। साथ ही समस्त चिकित्सा अधिकारियों का एईएफआई प्रशिक्षण विश्व स्वास्थ्य संगठन के सहयोग से पूर्ण हो चुका है। भारत शासन से प्राप्त गाइड-लाइन के अनुसार समस्त गतिविधियाँ युद्ध-स्तर पर सम्पन्न की जा रही हैं, सभी कार्य समय-सीमा में पूर्ण करने के लिये सभी स्तर पर अधिकारियों एवं कर्मचारियों की जिम्मेदारियाँ सुनिश्चित कर ली गयी हैं।

समस्त गतिविधियों के समन्वय के लिये राज्य-स्तर पर नियंत्रण-कक्ष की स्थापना अपर मिशन संचालक की निगरानी एवं सहयोग के लिये राज्य टीकाकरण अधिकारी को अधिकृत किया गया है। राज्य टीकाकरण अधिकारी ने बताया कि वर्ष 2019 में मीजल्स रूबेला टीकाकरण में लगभग ढाई करोड़ बच्चों का टीकाकरण प्रदेश स्तर पर सफलतापूर्वक किया जा चुका है।


महेश दुबे

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here