Home राष्ट्रीय सहकारी समितियों को पोस्ट हार्वेस्टिंग इकाईयों एवं मल्टी सर्विस सेंटर के रूप...

सहकारी समितियों को पोस्ट हार्वेस्टिंग इकाईयों एवं मल्टी सर्विस सेंटर के रूप में परिवर्तित किये जाने की योजना

272
0


सहकारी समितियों को पोस्ट हार्वेस्टिंग इकाईयों एवं मल्टी सर्विस सेंटर के रूप में परिवर्तित किये जाने की योजना – सहकारिता मंत्री डॉ. भदौरिया


 


भोपाल : सोमवार, दिसम्बर 7, 2020, 18:11 IST

सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ. अरविंद सिंह भदौरिया ने कहा है कि आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश अंतर्गत प्रदेश की प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों को पोस्ट हार्वेस्टिंग ईकाइयों एवं मल्टी सर्विस सेंटर के रूप में परिवर्तित किये जाने की योजना बनाई गई है। इस योजना के अंतर्गत पात्र प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों को एक प्रतिशत की न्यूनतम ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। अभी तक कुल 150 प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों एवं 55 विपणन सहकारी समितियों को इसके लिये चयनित किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि इन समितियों को पोस्ट हार्वेस्ट एक्टिविटी सेंटर जैसे शॉर्टिंग ग्रेडिंग, पैकिंग, प्रोसेसिंग पैक हाउस, कोल्ड स्टोरेज आदि के रूप में विकसित किये जाने का कार्य तेजी से किया जा रहा है।

सहकारिता मंत्री डॉ. भदौरिया ने कहा कि प्रदेश में प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों में कृषक सुविधा केन्द्र बनाए जाएँगे। जहां किसानों को उनकी आवश्यकता की समस्त जानकारियां एवं सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। उन्होंने कहा कि सहकारिता विभाग का यह प्रयास होगा कि प्रदेश की सहकारी समितियों में अधिक से अधिक इस योजना के अंतर्गत पोस्ट हार्वेस्टिंग अधोसंरचना निर्मित की जा सके, ताकि उस क्षेत्र के किसानों को स्थानीय स्तर पर ही इन समितियों के माध्यम से लाभ मिल सके और किसानों की उपज का मूल्य संवर्धन किया जाकर उनके लाभ में वृद्धि की जा सकें तथा उसमें उपज की हानियों को कम किया जा सके।

सहकारिता मंत्री डॉ. भदौरिया ने कहा कि किसानों और समिति के सदस्यों को इस योजना के संबंध में पूरा प्रशिक्षण दिया जाएगा। समिति के सदस्यों को प्रोजेक्ट्स का भागीदार बनाया जाएगा, ताकि वे भी उसके स्वामित्व में सम्मिलित हो सकें। किसान भाईयों को खेती की नई-नई तकनीकों का ज्ञान देने के लिये विषय-विशेषज्ञों की सेवाएँ भी ली जाएंगी।


श्रवण भदौरिया

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here