Home राजधानी न्यूज़ Bhopal News: लेखन मुझ पर थोपा गया था पर लोगों ने पसंद...

Bhopal News: लेखन मुझ पर थोपा गया था पर लोगों ने पसंद कियाःअमीष त्रिपाठी

135
0

Publish Date: | Sun, 29 Nov 2020 10:56 PM (IST)

फिर मिलेंगे के भाव के साथ विश्वरंग महोत्सव का समापन

भोपाल(नवदुनिया रिपोर्टर)। टैगोर अंतरराष्ट्रीय साहित्य एवं कला महोत्सव (विश्वरंग) के आखिरी दिन की शुरुआत कविश सेठ के गायन के साथ हुई। कविश सेठ ने विश्वरंग का आभार जताते हुए अपनी प्रस्तुति शुरू की। उन्होंने दुनिया के साथ मेरा देश बड़ा हुआ है…, कविता सुनाई, जिसमें भारत के मौजूदा हाल का बयान था। इसके बाद उन्होंने न जाने कब से… गीत सुनाया।

विश्वरंग के सहनिदेशक सिद्घार्थ चतुर्वेदी ने लेखक अमीष त्रिपाठी के साथ बातचीत की। अमीष भारतीय पौराणिक कथाओं के लेखन में बड़ा नाम हैं। उन्होंने अपनी पहली किताब 2010 में लिखी थी और अब तक उनकी आठ किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं। अपनी यात्रा के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि कुछ लोग लेखक के रूप में पैदा होते हैं, कुछ लोग मेहनत करके लेखक बन जाते हैं और कुछ लोगों पर लेखन थोप दिया जाता है। मैं तीसरी श्रेणी का लेखक हूं। उन्होंने आगे बताया कि लेखन के बारे में उन्होंने कभी नहीं सोचा था, हालांकि उन्हें पढ़ना बहुत पसंद था। उन्होंने खुद के लिए लिखना शुरू किया था और उस समय उन्हें कोई उम्मीद नहीं थी कि उनका लेखन लोगों को इतना पसंद आएगा। रामायण और महाभारत की वास्तविकता के सवाल पर उन्होंने कहा कि रामायण और महाभारत वास्तविक घटनाएं हैं। उनसे जुड़ी कुछ कहानियां अतिश्योक्ति हो सकती हैं, पर ये घटनाएं इतिहास में घटित हुई हैं।

समापन समारोह की झलक

विश्वरंग के आखिरी दिन समापन सत्र में विश्वरंग के दूसरे संस्करण के सुखद अनुभव एक बार फिर तरोताजा हो गए। विश्वरंग अब सिर्फ भोपाल या भारत का सपना नहीं है, बल्कि अब यह पूरे विश्व का सपना बन चुका है। फिर मिलेंगे के भाव के साथ विश्वरंग 2020 महोत्सव का समापन हुआ। इस दौरान महोत्सव के निदेशक संतोष चौबे ने कहा कि विश्वरंग का यह समापन कोई समापन नहीं है, बल्कि यह एक अल्पविराम है। अगले साल यह महोत्सव और भी हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाएगा। इस पूरे महोत्सव में दो सौ से ज्यादा सत्र आयोजित हुए। जिनका आयोजन दुनिया के 16 देशों में हुआ। इसमें एक हजार से ज्यादा कलाकारों ने भाग लिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here