Home राजधानी न्यूज़ Gwalior News: National Nutrition Week : ग्वालियर में दो साल में खराब...

Gwalior News: National Nutrition Week : ग्वालियर में दो साल में खराब हो गई 50 हजार क्विंटल ज्वार

897
0

Updated: | Wed, 02 Sep 2020 05:09 PM (IST)

ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। National Nutrition Week : एक से सात सितंबर तक मनाए जाने वाले राष्ट्रीय पोषण सप्ताह का मकसद खुद विभाग के ही जिम्मेदार अफसर नहीं पूरा होने देंगे। अनाज में पोषण की बात तो छोड़िए यहां तो उसकी बर्बादी पर पूरा विभाग तुला है। सरकारी अनाज के साथ क्या किया जाता है, इसका एक और कारनामा सामने आया है। सरकार के वेयरहाउस में ही 2 साल से ज्वार का हजारों क्विंटल स्टॉक समर्थन मूल्य पर खरीद कर रख दिया गया था, जिसे खुद सरकार-अफसर सब भूल गए।

नौबत यह आ गई है कि 50 हजार क्विंटल ज्वार के स्टॉक में घुन लग गया है। इसके रैक में तीन परतों की बोरियों में ज्वार की बजाए आटा हो गया। सड़ने का सिलसिला भी जारी है। दो साल में किसी ने ज्वार के स्टॉक की चिंता ही नहीं की। अब जब राशन वितरण प्रणाली में ज्वार का वितरण हो रहा है तब भी एमपी स्टेट सिविल सप्लाई कार्पोरेशन के अफसर जागे नहीं हैं। इस खराब हुए अनाज का हिसाब कौन देगा, इसका जवाब किसी के पास नहीं है।

गजब लापरवाहीः 2 साल से होश नहीं, अब घुन लगी

दो साल पहले राज्य सरकार ने समर्थन मूल्य पर ज्वार और बाजरा की खरीदी की थी। ग्वालियर सहित शिवपुरी, गुना, अशोकनगर व आसपास के जिलों को भी स्टॉक दिया गया था। अगस्त 2020 के महीने में राज्य सरकार ने ज्वार के स्टॉक को सार्वजनिक राशन वितरण प्रणाली में एक रुपए किलो में वितरित किए जाने का आदेश दिया था। जिले के वेयरहाउसों में ज्वार का एक स्टॉक एक साल पुराना भी है, जिसमें से अगस्त माह में राशन दुकानों पर वितरण कर दिया गया और अभी भी वितरण जारी है। अब दो साल पुराने स्टॉक की शुरुआत होने वाली है जो कि दो साल से ऐसे ही पड़ा रहने के कारण घुन और सड़ रहा है। एमपी स्टेट सिविल सप्लाई कार्पोरेशन के पास रखरखाव से लेकर राशन की दुकानों पर खाद्यान्न पहुंचाने का जिम्मा है।

1000 क्विंटल ज्वार घुन से बना आटा

दो साल से ज्वार का स्टॉक वेयरहाउस में रखा गया है, जहां इसे 22 लेयर में रखा जाता है। नीचे की तीन लेयर की बोरियों का आटा पूरी तरह घुन चुका है। यह तीन लेयर करीबन एक हजार क्विंटल मात्रा की हैं और यह सिलसिला ऊपर की लेयर में भी शुरू हो गया है। 50 हजार क्विंटल का बड़ा स्टॉक होता है। यह पूरा न घुन जाए, इसकी किसी को परवाह नहीं है।

हर वेयरहाउस में नान के प्रभारी, तब यह हाल

ग्वालियर में ज्वार का यह स्टॉक दो वेयरहाउस में रखा गया है, जिसमें दोनों बड़ागांव मुरार में हैं। सेंट्रल वेयरहाउस लक्ष्मीगंज में है। यह तीनों वेयरहाउस एमपी स्टेट सिविल सप्लाई कार्पोरेशन के तहत आते हैं और यहां स्टॉक मंगवाने, सुरक्षित रखने से लेकर सुरक्षित परिवहन का जिम्मा कार्पोरेशन का रहता है। घुन लगी ज्वार का यह हाल गौतम वेयरहाउस बड़ागांव में है। हर वेयरहाउस में एक-एक प्रभारी विभाग की तरफ से रहता है, तब यह हालात है।

बड़ा सवालः गरीबों के राशन की भरपाई कौन करेगा

सार्वजनिक वितरण प्रणाली से जुड़ने के लिए हजारों लोग कतार में हैं। हाल ही में 31 हजार नए परिवारों को इस सिस्टम से जोड़ा जा रहा है। कोरोना का संक्रमण चल ही रहा है और भोजन से लेकर खाद्यान्न के लिए ऐसे लोग परेशान हैं, जिन्हें सरकारी सिस्टम से अनाज नहीं मिल पाता है। अब यह इतना बड़ा हजारों क्विंटल का स्टॉक सड़ाया जा रहा है, इसकी भरपाई कौन करेगा, यह बड़ा सवाल है। खुद जिस विभाग पर सुरक्षित रखने और समय पर बांटने का जिम्मा था, उसने ही यह लापरवाही कर दी।

घुन गया होगा तो नहीं बंटवाएंगे

वेयरहाउस में रखा ज्वार का स्टॉक सप्लाई किया जा रहा है। घुन लगने के कारण ज्वार यदि आटा जैसा हो गया होगा तो उसका वितरण नहीं कराया जाएगा। एक माह का स्टॉक बंट चुका है।

सत्यनारायण माहेश्वरी, जिला प्रबंधक, एमपी स्टेट सिविल सप्लाई कार्पोरेशन, ग्वालियर

घुन लगने की जानकारी मिली

जिले के पास वेयरहाउसों में 50 हजार क्विंटल करीब ज्वार राज्य सरकार द्वारा खरीदा हुआ रखा हुआ है जो कि दो साल से रखा है। इसका उपयोग पहले होना चाहिए था और अब इसकी तीन लेयर में घुन लगने की जानकारी मिली है। इसकी जांच कराई जाएगी।

सीएस जादौन, जिला आपूर्ति अधिकारी, ग्वालियर

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here