Home इंदौर न्यूज़ In Bhopal, the innocent went on the roof after the mother scolded...

In Bhopal, the innocent went on the roof after the mother scolded her; Father kept watering his daughter after the trap, could not save his life | भोपाल में मां के डांटने पर मासूम छत पर चली गई थी; पिता फंदे से उतारकर बेटी को पानी पिलाते रहे, नहीं बचा पाए जान

115
0

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • In Bhopal, The Innocent Went On The Roof After The Mother Scolded Her; Father Kept Watering His Daughter After The Trap, Could Not Save His Life

भोपालएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

भोपाल की श्यामला हिल्स पुलिस ने रविवार को बच्ची का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया।

  • बच्ची घर में पले खरगोश को छत से नीचे लाना चाह रही थी
  • मां के मना करने पर वह गुस्सा होकर छत पर चली गई थी

भोपाल के श्यामला हिल्स थाना क्षेत्र में कक्षा सेकंड में पढ़ने वाली 9 साल की एक छात्रा ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। वह घर में पले खरगोश को छत से नीचे लाने की जिद कर रही थी। मां ने उसे डांट दिया था। इससे नाराज होकर वह छत पर चली गई थी। पिता 15 मिनट बाद छत पर पहुंचे, तो वह फंदे पर लटकी हुई थी। उन्होंने उसे उतारक पानी पिलाने की कोशिश की, लेकिन उसकी जान नहीं बच पाई।

श्यामला हिल्स पुलिस के अनुसार समर्थ केवट एक बिल्डिंग में गार्ड है। वे परिवार के साथ स्मार्ट रोड स्थित बालाजी सेरेमोनियल के क्वार्टर में रहते हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि शनिवार रात वे उनका 11 साल का बेटा, पत्नी और 9 साल की बेटी राधिका घर पर ही थी। राधिका खरगोश के साथ खेलना चाह रही थी। वह उन्हें छत से नीचे लाने की जिद करने लगी। इस पर उनकी मां ने उसे डांट दिया।

इससे नाराज होकर वह वहां से चली गई। कुछ देर तक उसकी आवाज नहीं आने पर उन्होंने उसकी तलाश शुरू की। वह छत पर पहुंचे तो बेटी दुपट्टे से फंदा लगा चुकी थी। उन्होंने उसे फंदे से उतारा और पानी पिलाने का प्रयास किया। कई बार मुंह में पानी डाला, लेकिन बेटी के शरीर में कोई हरकत नहीं आई। यह देख उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दे दी। पुलिस ने रविवार दोपहर बच्ची का पोस्टमार्टम कराया।

पुलिस को शव जमीन पर मिला

थाना प्रभारी तरुण भाटी ने बताया कि पुलिस जब मौके पर पहुंची, तो उनके पिता समर्थ बच्ची का शव फंदे से उतार चुके थे। पूरा परिवार गम में है। इसलिए अब तक उनके बयान नहीं हो सके। परिजनों के प्रारंभिक बयान के अनुसार यह एक सुसाइड का मामला है। लेकिन यह किन हालात में और कैसे घटना हुई? इसकी जांच की जा रही है।

कक्षा सेकंड में पढ़ती थी राधिका

भाटी के अनुसार राधिका कक्षा सेकंड में पढ़ाई करती थी। अब घर में उसके बाद उसका 11 साल का बड़ा भाई, मां और पिता हैं। परिजनों ने बताया कि वह छोटी सी बात पर भी नाराज हो जाती थी, लेकिन उन्हें कभी एहसास नहीं हुआ कि वह इस तरह का कोई कदम उठा सकती है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here