Home इंदौर न्यूज़ Madhya Pradesh Bhopal Police Station-Tila Jamalpura FIR News; Woman’s Complaint Filed Not...

Madhya Pradesh Bhopal Police Station-Tila Jamalpura FIR News; Woman’s Complaint Filed Not Filed | भोपाल में पति के उत्पीड़न से परेशान गर्भवती महिला रातभर भटकती रही; पुलिस से लेकर सीएम हेल्पलाइन में सुबह तक इंतजार करने को कहा गया

127
0

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Madhya Pradesh Bhopal Police Station Tila Jamalpura FIR News; Woman’s Complaint Filed Not Filed

भोपालएक घंटा पहले

भोपाल में ससुराल और पति से परेशान होकर एक महिला रातभर शिकायत करने के लिए भटकती रही।

  • महिला की मां ने दामाद और ससुराल पक्ष पर लड़की होने के शक में मारपीट के आरोप लगाए
  • कहा- सबकुछ देने के बाद भी दहेज के लिए प्रताड़ित करते हैं, पुलिस समझौता करने कहती है

भोपाल में पति के बुरी तरह पिटाई करने के बाद एक गर्भवती महिला रातभर टीला जमालपुरा थाने से लेकर महिला थाने तक भटकती रही। टीला में उससे सिर्फ आवेदन लिया गया तो महिला थाना से जवाब मिला कि रात को यहां एफआईआर नहीं होती सुबह आना। भाइयों के साथ मिलकर महिला ने सीएम हेल्पलाइन तक में शिकायत की, लेकिन सुबह कार्रवाई किए जाने का आश्वासन मिलता रहा। बड़ी मुश्किल से घंटों भटकने के बाद सुबह पुलिस ने एफआईआर की। अब दोपहर बाद उसे मेडिकल के लिए भेजा गया है।

पीड़िता रात को महिला थाने पहुंची, लेकिन उसे गेट लगा मिला।

पीड़िता रात को महिला थाने पहुंची, लेकिन उसे गेट लगा मिला।

पुतली घर निवासी रुबीना ने बताया उन्होंने गत वर्ष जुलाई में 20 वर्षीय बेटी की टीला जमालपुरा में रहने वाले सोहेल से शादी की थी। उन्होंने उन्हें साफ कह दिया था कि वे दहेज नहीं दे सकते हैं। इस पर भी उन्होंने जबरन शादी की थी। उनका कहना था कि उन्हें सिर्फ लड़की चाहिए है। उन्होंने कर्जा लेकर और रिश्तेदारों के साथ मिलकर पूरा दहेज दिया, लेकिन एक दो महीने बाद ही बेटी को और दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगे। हद तो शुक्रवार रात हो गई।

दामाद सोहेल ने अपनी मां के कहने पर उनकी बेटी से मारपीट कर दी। उसने कहा कि तू दिन भर सोती रहती है। तेरे पेट में बेटी है। इसे गिरा दे। हम इसका खर्चा नहीं उठा सकते हैं। उन्होंने उसके पेट में भी लात मारी। बेटी ने खुद को कमरे में बंद कर डायल-100 को कॉल किया। पुलिस आई तो वह उनसे नाटक करने लगे। मेरी बेटी के कहने पर पुलिस उसे अपने साथ थाने ले गए। इस दौरान बेटी का फोन आने पर बेटे भी थाने पहुंच गए।

परिजनों के साथ करीब दो घंटे तक वह महिला थाने के बाहर बैठी रही।

परिजनों के साथ करीब दो घंटे तक वह महिला थाने के बाहर बैठी रही।

हाथ पैर जोड़ने पर गई ससुराल

ससुराल वालों के हाथ जोड़ने और पुलिस के समझाने पर बेटी उनके साथ जाने को तैयार हो गए। उनके बेटे उसे लेकर ससुराल पहुंचे तो सुसराल वाले वहां हंगामे करने लगे। उन्होंने उसे घर से निकाल दिया। इसके बाद वे दोबारा टीला जमालपुरा थाने आ गए। पुलिसकर्मियों ने कहा कि लिखित में शिकायत दे दो। इसके बाद उन्होंने चलता कर दिया। परेशान होकर वे महिला थाने आ गए।

शिकायत दर्ज कराने सीढ़ीयों पर बैठी रही महिला

यहां दो घंटे तक सीढ़ियों पर बेटी बैठी रही, लेकिन थाने का दरवाजा तक नहीं खुला। गार्ड ने कहा कि सुबह आना। मैडम के आने पर एफआईआर होगी। रुबीना ने आरोप लगाए कि रात को ही सीएम हेल्पलाइन को शिकायत की। वहां से भी सुबह कार्रवाई करने की बात कहकर महिला थाने जाने को कहा। बड़ी मुश्किल से टीला जमालपुरा पुलिस ने सुबह 6 बजे एफआईआर की।

दोपहर बाद मेडिकल के लिए भेजा

दोपहर बाद बेटी को मेडिकल के लिए भेजा गया है। इधर, सीएसपी जहांगीराबाद अब्दुल अलीम का कहना है कि उनके संज्ञान में ऐसा कोई मामला नहीं है। वैसे थाने में 24 घंटे एफआईआर दर्ज की जाती है। अगर महिला थाने में रात को महिला की शिकायत नहीं ली गई है, तो जांच करवाएंगे।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here