Home राजधानी न्यूज़ Madhya Pradesh News Public Works Department will keep away from contractors leaving...

Madhya Pradesh News Public Works Department will keep away from contractors leaving unfinished work

43
0

Publish Date: | Tue, 01 Dec 2020 07:25 PM (IST)

Madhya Pradesh News: भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। ठेका लेकर अधूरा काम छोड़ने वाले ठेकेदारों से लोक निर्माण विभाग अब किनारा करेगा। ऐसे ठेकेदारों को अब दोबारा काम नहीं दिया जाएगा। दरअसल, ठेकेदार के बीच में काम छोड़ने से न सिर्फ काम की लागत बढ़ जाती है, बल्कि नया ठेकेदार भी आसानी से नहीं मिलता है। इसे देखते हुए विभाग ने तय किया है कि जिस ठेकेदार को काम दिया गया है, उससे ही तय पैमाने पर पूरा कराया जाए। यदि वह वर्क प्रोग्राम के हिसाब से काम नहीं करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। इसके लिए मुख्य अभियंता, अधीक्षण और कार्यपालन यंत्रियों को नौ साल पहले के निर्देश भी याद दिलाए गए हैं।

सूत्रों का कहना है कि ठेकेदार काम लेने के लिए तय दर से कम पर ठेके ले लेते हैं। इसका असर निर्माण की गुणवत्ता पर भी पड़ता है क्योंकि ठेकेदार पैसा बचाने के लिए उन कामों को छोड़ने लगता है, जिनमें नुकसान होता है। इसकी वजह से काम अधूरे रह जाते हैं और ठेकेदार काम को छोड़ देते हैं। विभाग को इन कामों को पूरा कराने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

नया ठेकेदार आसानी से पुराने और अधूरे काम नहीं लेता है और यदि वह काम ले भी लेता है तो जरूरी धनराशि का प्रबंध करने में विभाग को परेशानी का सामना करना पड़ता है। यही वजह है कि विभाग ने सड़कों के मामले में मुख्य अभियंता, अधीक्षण यंत्री और कार्यपालन यंत्रियों को निर्देश दिए थे कि वर्क प्रोग्राम स्वीकृत करके उसके अनुसार ही काम कराया जाए। दरअसल, देखने में आया था कि ठेकेदार सड़क निर्माण में मिट्टी के काम एक बार में पूरी लंबाई में शुरू कर देते हैं और भुगतान प्राप्त होते ही काम छोड़कर चले जाते हैं।

नौ साल बीतने के बाद भी स्थितियों में ज्यादा परिवर्तन नहीं आया है। इसे देखते हुए प्रमुख अभियंता चंद्र प्रकाश अग्रवाल ने सभी मुख्य अभियंता, अधीक्षण यंत्री और कार्यपालन यंत्रियों को निर्देश दिए हैं कि ठेकेदारों से वर्क प्रोग्राम के हिसाब से ही काम कराया जाए। ऐसा न हो कि ठेकेदार मिट्टी का पूरा करने के बाद हाथ खड़े कर दें। ऐसी स्थिति मान्य नहीं होगी। अधूरा काम छोड़ने वाले ठेकेदारों के खिलाफ अनुबंध के हिसाब से सख्त कार्रवाई की जाए। विभाग ऐसे ठेकेदारों को बर्दाश्त नहीं करेगा, जिनकी वजह से सरकार की छवि प्रभावित होती है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here